Diwali की रात सोने से पहले झाड़ू के नीचे चुपके से दबा दे चीज मां लक्ष्मी दौड़ी चली आएंगी | दिवाली - Rice Purity Test

Diwali की रात सोने से पहले झाड़ू के नीचे चुपके से दबा दे चीज मां लक्ष्मी दौड़ी चली आएंगी | दिवाली

वीडियो शुरू करने से पहले कमेंट बॉक्स में जाकर के तुरंत लिख दें जय मां लक्ष्मी जय माता दी ताकि इस दिवाली को माता लक्ष्मी जी आपके घर पर वास करने आए और माता लक्ष्मी जी की कृपा सदैव आप पर बनी रहे

और माता रानी जी के लिए एक लाइक तो जरूर बनता है तो वीडियो को लाइक करना बिल्कुल भी मत भूलिएगा झाड़ू हर किसी के घर में होती है लेकिन क्या आपको यह बात पता है कि झाड़ू को सीधे माता लक्ष्मी जी से

जोड़कर के देखा जाता है झाड़ू को लेकर के हमारे वेद पुराणों में बहुत से शुभ और अब शगुन के बारे में बताया गया है झाड़ू को कब खरीदना चाहिए झाड़ू को कब नहीं खरीदना चाहिए झाड़ू को घर में किस दिशा में रखना चाहिए दिवाली के दिन झाड़ू के वह कौन से ऐसे उपाय करने चाहिए जिन उपाय को करने से एक व्यक्ति के जीवन से उसकी उसकी गरीबी से मुक्ति मिल जाती है इसके बारे में हमारे धर्म शास्त्र में बहुत विस्तार से बताया

गया है और जो भी व्यक्ति दिवाली की रात सोने से पहले प्राचीन काल के समय से चले आ रहे इस उपाय को कर लेता है जिसमेंउसको सिर्फ झाड़ू के नीचे गुप्त चीज दबानी है तो इसके बारे में हमारे वेद पुराणों में बताया

गया है फिर उसे व्यक्ति के जीवन में उसको कभी भी धन की कमी नहीं होती है दोस्तों झाड़ू जो है वह माता लक्ष्मी जी का प्रतीक होती है शास्त्र में वर्णित है जो झाड़ू होती है वह किसी भी घर की दरिद्रता गरीबी और परेशानी को आराम से घर से निकाल देती है किसी भी व्यक्ति के जीवन से आर्थिक कष्ट और आर्थिक परेशानी को खत्म करने में भी झाड़ू का बहुत बड़ा योगदान माना गया है वैसे तो झाड़ू से जुड़े हुए कई अनगिनत प्रयोग

के बारे में हमारे वेद पुराण में बताया गया है लेकिन आज के इस वीडियो में हम आपको सिर्फ झाड़ू से जुड़े उसे प्रयोग के बारे में बताने जा रहे हैं जिसमें सिर्फ आपको दिवाली की रात झाड़ू के नीचे गुप्त चीज को दबाना है और यह उपाय अगर आपने विधि विधान से सही मुहूर्त पर कर लिया तो मां के चलिए माता लक्ष्मी जी दौड़ी दौड़ी आपके घर पर चली आएगी और आपके घर पर धन की वर्षा होगीज्योतिषियों की मां ने झाड़ू का जो महत्व

होता है कि यह बीमारियों को दूर करने वाली मानी जाती है दोस्तों यहां तक की शीतला माता जो है वह अपने हाथ में झाड़ू को लिए रहती है इसीलिए झाड़ू का प्रयोग करते समय एक व्यक्ति को कुछ बातों का ध्यान रखना चाहिए इसलिए कभी भी झाड़ू को सूर्यास्त के बाद भूल कर भी मत लगाएगी और खास तौर से वेद पुराणों में बताया गया है कि धनतेरस और दिवाली के दिन झाड़ू को भूलकर भी रात्रि में नहीं लगना चाहिए