मां काली 🕉️अब कोई चाल नहीं चलेगा तुम्हारा खोया हुआ मान सम्मान अधिकार मैं वापस दिलाने - Rice Purity Test

मां काली 🕉️अब कोई चाल नहीं चलेगा तुम्हारा खोया हुआ मान सम्मान अधिकार मैं वापस दिलाने

मेरे प्यारे बच्चे आज मैं आपको कुछ ऐसा बताने आई हूं जिसे सुनकर आपका जीवन पूरा बदल जाएगा तो मेरे बच्चे अगर तुम मुझे अपनी माता मानते हो तो अपनी माता के लिए एक लाइक कर दीजिए और कमेंट में जय हो

माता रानी लिख दीजिए आप जैसे ही वीडियो को लाइक करके कमेंट करते हैं आपकी मां का आपके और आपके परिवार पर तो वीडियो को छोड़कर जान मेरे बच्चे तुम्हें कई जन्मों से मेरी भक्ति कर रहे हो मेरे कहने पर

मेरे आदेश पर ही तुमने यह मनुष्य का जीवन लिया है तुम्हें वह सब भोग में पड़ रही है वह सब को सिर्फ तुम मेरे लिए मेरे बच्चे तुमने बचपन से अनुभव किया होगा कि तुम बाकी सारे बच्चों से बहुत अलग-अलग रहते थे

तुम्हारी उम्र के बच्चे अलग दुनिया देखे थे और तुम अलग दुनिया देखे थे जब से तुमने होश संभाला तुम्हारी रुचि तुम्हारा प्रेम मेरे पति बनेगा जहां तुम्हारी उम्र के बच्चे कुत्ते को अपने परिवारजनों की इज्जत को बहुत संभाल

के रखा हमेशा से कहीं तुमसे ऐसी कोई गलत या तुम्हारी इज्जत थोड़ी सी काम हो तुमने कभी कोई ऐसा कदम नहीं उठाया जिससे किसी और को तकलीफ को तुम हमेशा दूसरों के बारे में सोचते थे मेरे बच्चे उसे उम्र में तो

बच्चों को यह भी होश नहीं होता कि तुम क्या ऐसा करोगे जिससे तुम्हारे माता-पिता को तकलीफ होगी और जिससे तुम्हारी इज्जत जाएगी तुमने ऐसा कोई कार्य कभी नहीं किया जब आप मेरे साथ जब आप मुझे यह कहते हो कि मैं आपका मेरे बच्चे याद रखना सीखा था वही है भगवान श्री राम को भी वनवास में जाना पड़ता था और भगवान कृष्ण को भी तपस्या करनी पड़ी थी उन्होंने भी अपने प्रेम को खो दिया था उन्होंने गीता का ज्ञान नहीं

दिया होता अगर उन्हें खुद वह अनुभव न होता उन्होंने भी बहुत कष्ट देखा और उनका आकाश तुम्हारे सपना बहुत बड़े थे तुम बहुत कुछ करना चाहते थे पर परिस्थितियों ने समाज में तुम्हारे घर की बात तुम्हें एक पिंजरे में मेरे बच्चे तुम्हारी खासियत यह है कि उसे पिंजरे में बंद होकर भी तुम मेरा सुमिरन करते थे तुम हमेशा यही सोचते थे कि मुझे पता है एक दिन में इस पिंजरे को तोड़ के आजाद हो जाए जिन वीडियो में समाज ने मुझे सारी

वीडियो तोड़ दूंगा और मैं हूं चाहे मेरी पेरिस तिथि आप चाहे मैं आज मेरे बच्चे हो सकती है तुम बहुत कुछ देखा है तब जाकर आज बिना अनुभव के तुम अपने सपनों को पूरा नहीं कर सकते तो तुम जी दुख पर क्योंकि वह दुख दर्द में तुम्हें आने वाली जंग के लिए तैयार कर रहे हैं वह दुख दर्द में तुम्हें इसलिए दे रही हूं कि तुम्हें अनुभव हो सके और तुम अपने अनुभव से इस पूरे समाज को कुछ सीख सको